ट्यूशन पढ़वाने के नाम पर सेना का अफसर बनकर ठगी कर रहे शातिर

ट्यूशन पढ़वाने के नाम पर सेना का अफसर बनकर ठगी कर रहे शातिरगाजियाबाद। साइबर अपराधियों ने लोगों को ठगने का अब नया तरीका अपनाया है। ठग खुद को भारतीय सेना का अफसर बताकर अपने बच्चों को ट्यूशन पढ़वाने का झांसा देकर ठगी कर रहे हैं। इसमें ठग शिक्षक व युवाओं को निशाना बना रहे हैं। ठगों ने क्रॉसिंग रिपब्लिक की एक सोसायटी की रहने वाली एक इंजीनियरिंग की छात्रा को फोन करके खुद को मुंबई में तैनात भारतीय सेना का अफसर बताया और अपने बच्चों को ऑनलाइन ट्यूशन पढ़ाने की बात कही। ट्यूशन की फीस भेजने के नाम पर ठग ने उनके खाते में एक रुपये भेजने का झांसा देकर 20 हजार रुपये निकाल लिए। मोबाइल पर संदेश आने उन्हें ठगी का पता चला। मामले की उन्होंने साइबर सेल में शिकायत की है।छात्रा ने बताया कि वह ऑनलाइन ट्यूशन और कोडिंग की क्लास देती हैं। इसके लिए उन्होंने माई फेवटूओ नामक एप पर अपना अकाउंट बनाया हुआ है। छात्रा ने बताया कि छह मई को उनके पास एप के माध्यम से अनजान नंबर से कॉल आई। कॉलर ने खुद को भारतीय सेना का अफसर बताया और अपने आठवीं व 11वीं क्लास में पढ़ने वाले बच्चों के लिए ऑनलाइन ट्यूशन की बात की। इसके लिए उसने आर्मी मशीनरी की बातें सुनाकर तीन माह का वेतन एडवांस में भुगतान करने की बात कही। छात्रा ने बताया कि उसने पहले लिंक भेजकर एक रुपया खाते में भेजा। इसके बाद उसने एक लिंक और भेजा जिस पर क्लिक करने से उनके खाते से 20 हजार रुपये निकल गए। छात्रा ने कॉलर से इसकी शिकायत की तो उसने कहा कि यह रुपये तभी वापस आएंगे जब उनके खाते में कम से कम 10 हजार रुपये होंगे। ठगी का एहसास होने पर छात्रा ने फोन काट दिया और पुलिस से शिकायत की। विजयनगर थाना प्रभारी योगेंद्र मलिक का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जांच में साइबर सेल की मदद लेकर ठगों को ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 05, 2022, 00:54 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Ghaziabad



ट्यूशन पढ़वाने के नाम पर सेना का अफसर बनकर ठगी कर रहे शातिर #Ghaziabad #SubahSamachar