पीजीआई के 10 डॉक्टरों समेत 45 स्वास्थ्य कर्मी पॉजिटिव

रोहतक। कोरोना के केस तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। पीजीआई के 45 स्वास्थ्य कर्मचारी शुक्रवार को कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें से 10 चिकित्सक हैं। अब तक संस्था के 96 चिकित्सक संक्रमित हो चुके हैं और संक्रमित कर्मचारियों की संख्या 306 पहुंच चुकी है। निदेशक डॉ. एसएस लोहचब ने ऐसे में लोगों से अपील की है कि वे जरूरी होने पर ही घर से निकलें। यदि घर से बाहर निकले की आवश्यकता पड़ तो मास्क लगाने के साथ ही शारीरिक दूरी का भी ध्यान रखें। संस्थान में लगातार सामने आ रहे कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ाने लगा है। पीजीआई में ही बड़े स्तर पर कर्मचारी व चिकित्सक संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में आम जन से अपील की जा रही है वे कोरोना गाडडलाइन का पालन करें। पीजीआई चिकित्सा अधीक्षक डॉ. ईश्वर सिंह ने कहा कि संस्थान का धनवंतरी अपेक्स ट्रामा सेंटर को कोविड-19 अस्पताल बना दिया गया है। कोविड-19 संक्रमित मरीज पीजीआईएमएस के किसी भी अन्य हिस्से में इलाज कराने न पहुंचे। ऐसे लोग सीधे ट्रामा सेंटर जाएं। इससे अन्य लोगों को संक्रमण का खतरा कम होगा। संस्थान के ट्रॉमा सेंटर के आईसीयू में 27 बेड में से 4 पर ही मरीज भर्ती हैं। यहां ट्रायज एरिया के 35 बेड में से भी 4 पर ही मरीज भर्ती हैं। ट्रॉमा सेंटर के तृतीय तल पर बनाए गए वार्ड के सभी 45 बेड खाली हैं। जिन मरीजों ने अभी करोना जांच नहीं कराई है व उन्हें कोविड-19 लक्षण नजर आ रहे हैं, वे आपातकालीन विभाग के साथ सी ब्लॉक में चिकित्सक को दिखा सकते हैं। कोई भी कोविड-19 संक्रमित मरीज आपातकाल विभाग में न जाए। ये सीधे ट्रॉमा सेंटर में ही जाएं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jan 15, 2022, 00:48 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Corona



पीजीआई के 10 डॉक्टरों समेत 45 स्वास्थ्य कर्मी पॉजिटिव #Corona #SubahSamachar