Akasa Air: मई के आखिर या जून की शुरुआत में उड़ान भरेंगे राकेश झुनझुनवाला के विमान, इन शहरों में मिलेंगी सेवाएं

विमानन उद्योग पर कोविड-19 महामारी के चलते संकट के बादल छाए रहने के बावजूद विमानन कंपनी आकासा एयर की ओर से कहा गया है कि वह बोइंग 737 मैक्स विमान मिलने के साथ ही मई के अंत में या जून की शुरुआत में उड़ान भरने के लिए तैयार है। कंपनी ने कहा कि वह देश में भरोसेमंद और किफायती सेवाओं के साथ हवाई यात्रा को और अधिक लोकतांत्रिक बनाने के लिए काम करेगी। बेड़े में 18 विमान जोड़ने की तैयारी एक रिपोर्ट के मुताबिक, बिग बुल के नाम से पहचाने जाने वाले निवेशक राकेश झुनझुनवाला के समर्थन वाली विमानन कंपनी मार्च, 2023 के अंत तक अपने बेड़े में 18 विमानों को जोड़ने की तैयारी कर रही है। आकासा एयर शुरुआत में महानगरों से दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों के लिए सेवाएं शुरू करेगी। ये उड़ानें महानगरों से महानगरों के लिए भी होंगी। आकासा एयर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) विनय दुबे ने कहा कि अगर आप भारत में वाणिज्यिक विमानन के दीर्घकालिक भविष्य को देखें, तो यह दुनिया में किसी भी दूसरी जगह की तरह ही रोमांचक है। दुबे ने कहा, हमें अपना पहला विमान अप्रैल के उत्तरार्ध में मिलने की उम्मीद है, पहली वाणिज्यिक उड़ान मई के अंत या जून की शुरुआत में चालू होगी। कर्मचारियों की खुशी सर्वोपरि विनय दुबे ने कहा कि भारतीय विमानन क्षेत्र तेजी से बढ़ रहा है और आकासा एयर का मानना है कि वर्तमान संकट काल का दौर अस्थायी है और ये जल्द ही बीत जाएगा। विमानन क्षेत्र महामारी से काफी प्रभावित हुआ है और कोरोना के नए ओमिक्रॉन स्वरूप के आने से उद्योग के पुनरुद्धार को एक और झटका लगा है। उन्होंने कहा कि आकासा एयर किफायती विमान वाहक के रूप में उड़ान भरेगी और कंपनी ने 72 बोइंग 737 मैक्स विमानों के लिए ऑर्डर दिया है, जिनमें ईंधन की खपत कम होती है। आकासा एयर मुख्य रूप से पेशेवर रूप से प्रबंधन, प्रतिस्पर्धी लागत संरचना, ग्राहकों की संतुष्टि, कर्मचारियों की खुशी और एयरलाइन की आर्थिक सेहत पर जोर देगी। 2023 की दूसरी छमाही में विदेशी उड़ानें आकासा के सीईओ दुबे के मुताबिक, कंपनी ने भर्ती शुरू कर दी है और वह अन्य प्रक्रियाओं को अंतिम रूप दे रही है। फिलहाल, विमानन कंपनी के पास 50 से अधिक कर्मचारी हैं। उन्होंने कहा कि विमानन क्षेत्र को लेकर हम उत्साहित हैं। इसका एक कारण यह है कि ज्यादातर पश्चिमी अर्थव्यवस्थाओं की तुलना में भारत में कुछ लोगों ने ही उड़ान भरी है। आने वाले वर्षों में यह सब बदलने वाला है और हम उस बदलाव का हिस्सा बनना चाहते हैं. हम इस बदलाव और हवाई यात्रा के लोकतंत्रीकरण में योगदान करना चाहते हैं। दुबे ने कहा कि विमानन कंपनी का लक्ष्य वर्ष 2023 की दूसरी छमाही में विदेशी उड़ानें शुरू करने का है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jan 26, 2022, 09:58 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




Akasa Air: मई के आखिर या जून की शुरुआत में उड़ान भरेंगे राकेश झुनझुनवाला के विमान, इन शहरों में मिलेंगी सेवाएं #BusinessDiary #National #AkasaAir #RakeshJhunjhunwala #Airlines #AkasaAirline #RakeshJhunjhunwalaAirline #AkasaCeo #VinayDubey #AkasaAirlineBoeingAircraft #CivilAviation #CivilAviationSector #SubahSamachar