Analysis: क्यों चुने गए दीपक हुड्डा? धमाकेदार प्रदर्शन के बावजूद ऋषि धवन हुए नजरअंदाज, जानें क्या कहते हैं आंकड़े

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम का एलान बुधवार (26 जनवरी) को किया। चयन में तीन बड़ी बातें सामने आईं। कुलदीप यादव की वापसी हुई, रवि बिश्नोई को पहली बार मौका दिया गया और दीपक हुड्डा को आश्चर्यजनक रूप से टीम में शामिल किया गया। हुड्डा के चयन से सभी हैरान हैं। दरअसल, दीपक हुड्डा का उनका घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन भी खास नहीं रहा है। 10 मैचों में उनके नाम सिर्फ एक शतक और दो अर्धशतक है। वनडे टीम में उनके चुने जाने पर सवाल उठ रहे हैं। क्रिकेट विशेषज्ञों का मानना है कि हुड्डा ने आईपीएल 2021 में खराब प्रदर्शन के बाद सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट में तो अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन विजय हजारे ट्रॉफी में निराशाजनक प्रदर्शन किया। अगर उन्हें चुनना ही था तो टी20 टीम में चुनते। वनडे में ऋषि धवन को मौका देना चाहिए था। हुड्डा ने आईपीएल में 16 की औसत से बनाए थे रन हुड्डा ने आईपीएल के पिछले सीजन में भी निराश किया था। उन्होंने 12 मैचों की 11 पारियों में सिर्फ 160 रन बनाए थे। एक पारी को छोड़ दें तो हुड्डा पंजाब किंग्स की उम्मीदों पर खड़े नहीं उतर सके थे। आईपीएल 2021 में उनका 16 और स्ट्राइक रेट 130.08 का रहा था।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jan 27, 2022, 18:35 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




Analysis: क्यों चुने गए दीपक हुड्डा? धमाकेदार प्रदर्शन के बावजूद ऋषि धवन हुए नजरअंदाज, जानें क्या कहते हैं आंकड़े #CricketNews #National #IndVsWi #DeepakHooda #RishiDhawan #IndiaVsWestIndies #SubahSamachar