पुतिन का पलटवार: अमेरिका के साथ अंतरिक्ष परियोजना से रूस खींचेगा हाथ, चीन के साथ देगा इसे अंजाम 

यूक्रेन से जंग और प्रतिबंधों का असर अब रूस-अमेरिका संबंधों पर साफ नजर आने लगा है। रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख ने शनिवार को कहा कि देश पर प्रतिबंधों के बाद अमेरिका शुक्र ग्रह का पता लगाने के लिए रूस के साथ संयुक्त अंतरिक्ष परियोजना वेनेरा-डी का हिस्सा नहीं हो सकता है। मॉस्को अकेले या चीन की भागीदारी के साथ मिशन को अंजाम देगा। वेनेरा-डी रूस के रोस्कोस्मोस और अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के बीच शुक्र का पता लगाने के लिए एक संयुक्त अंतरिक्ष अन्वेषण परियोजना है। यूक्रेन पर हमले के बाद रूस पर प्रतिबंध गुरुवार को यूक्रेन के खिलाफ विशेष सैन्य अभियान का आदेश देने के बाद अमेरिका और उसके सहयोगियों ने चार बड़े रूसी बैंकों की संपत्ति को जब्त करने, निर्यात नियंत्रण लागू करने और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबी कुलीन वर्गों प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। प्रतिबंध रूस के एयरोस्पेस उद्योग और उसके अंतरिक्ष कार्यक्रम को कमजोर करेंगे। रूसी अंतरिंक्ष एजेंसी प्रमुख बोले, अमेरिका के साथ भागीदारी असंभव रूस द्वारा संचालित तास समाचार एजेंसी के हवाले से रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस के महानिदेशक दिमित्री रोगोजिन ने कहा है कि प्रतिबंधों के कारण परियोजना में अमेरिका की भागीदारी असंभव है। रोगोजिन ने कहा कि रूस अकेले या चीन की भागीदारी से मिशन को अंजाम देगा। रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख ने कहा कि उन्होंने सभी अंतरिक्ष अनुसंधान मिशनों के लिए आपसी तकनीकी सहायता पर बीजिंग के साथ बातचीत शुरू करने के शुक्रवार को निर्देश दिए थे। रूस ने यूएनएससी मेंवीटो पावर का किया इस्तेमाल शुक्रवार को रूस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अपनी वीटो शक्ति का इस्तेमाल अमेरिका और अन्य पश्चिमी देशों द्वारा प्रस्तावित एक प्रस्ताव को अवरुद्ध करने के लिए किया, जिसने यूक्रेन में रूस के सैन्य अभियान की निंदा होनी थी। भारत, चीन और यूएई ने प्रस्ताव पर मतदान से परहेज किया। रूस के यूक्रेन के खिलाफ सैन्य हमले के बाद यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के जवाब में रोस्कोस्मोस ने कौरो में गुयाना स्पेस सेंटर से अंतरिक्ष प्रक्षेपण पर यूरोपीय भागीदारों के साथ अपने सहयोग को निलंबित कर दिया है और यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों के जवाब में फ्रेंच गुयाना से अपने तकनीकी कर्मियों को वापस बुला लिया है। रूस और अमेरिका आईएसएस कार्यक्रम में प्रमुख भागीदार हैं, जिसमें कनाडा, जापान, फ्रांस, इटली और स्पेन जैसे कई यूरोपीय देश भी शामिल हैं। वर्तमान में चार नासा अंतरिक्ष यात्री, दो रूसी अंतरिक्ष यात्री और एक यूरोपीय अंतरिक्ष यात्री यहां काम कर रहे हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Feb 26, 2022, 16:58 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




पुतिन का पलटवार: अमेरिका के साथ अंतरिक्ष परियोजना से रूस खींचेगा हाथ, चीन के साथ देगा इसे अंजाम  #World #International #Russia #UkraineWar #RussiaUsRelations #RussiaSpaceProject #RussiaChina #SubahSamachar