चीन में फिर कोरोना : बीते साल से ज्यादा मामलों पर डब्ल्यूएचओ ने चेताया, ओमिक्रॉन-डेल्टा के मेल से बना नया वैरिएंट ला सकता है चौथी लहर

चीन के वुहान से 2019 में शुरू हुआ कोरोना संक्रमण एक बार फिर चीन को अपनी गिरफ्त में ले रहा है। सोमवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने कहा कि देश में इस साल अब तक 2021 में दर्ज किए गए मामलों से भी ज्यादा केस दर्ज हो चुके हैं। उधर, डब्ल्यूएचओ ने चेताया कि ओमिक्रॉन-डेल्टा से मिलकर अब नया वैरिएंट आ सकता है जो विश्व में चौथी लहर के लिए जिम्मेदार होगा। चीन में एक दिन में 1,337 नए घरेलू मामले दर्ज हुए हैं। उधर, रॉयटर्स की गणना के मुताबिक, गत वर्ष 2021 में पूरे साल में चीन के भीतर 8,378 मामले दर्ज हुए थे जो इस साल अब तक 9,000 से ज्यादा हो गए हैं। बीते एक सप्ताह में बीजिंग, शंघाई समेत ग्वांगडोंग, जिआंग्सु, शेडोंग और झेजियांग प्रांतों में कोविड के नए मामले सामने आए हैं। नोमुरा ने एक नोट में कहा कि इससे चीनी अर्थव्यवस्था एक बार फिर गंभीर रूप से प्रभावित हो सकती है, क्योंकि मौजूदा हालात में कई जगह 3 करोड़ से ज्यादा आबादी लॉकडाउन में कैद है। दूसरी तरफ, डब्ल्यूएचओ की वैज्ञानिक मारिया वान करखोव ने ट्वीट किया है कि दुनिया में ओमिक्रॉन और डेल्टा के मिश्रण से नया वैरिएंट विकसित हो रहा है जो चौथी लहर ला सकता है। मारिया ने वायरोलॉजिस्ट का ट्वीट रिट्वीट करते हुए लिखा हम इसे ट्रैक कर रहे हैं और बातचीत जारी रखे हैं। 24 घंटों में कई प्रांत कोरोना की चपेट में एनएचसी ने बताया कि आयोग ने बताया कि स्थानीय संक्रमण के जो नए मामले आए हैं उनमें 1,412 मरीज जिलीन प्रांत के हैं। यहां 90 लाख की आबादी लॉकडाउन में कैद है। प्रशासन ने चांगचुन के अलावा हाल में शांडोंग प्रांत के युचेंग में भी लॉकडाउन का आदेश दिया है जिसकी आबादी करीब पांच लाख है। आयोग ने बताया कि जिलीन के अलावा शांडोंग में 175, ग्वांडोंग में 62, शांक्सी में 39, हेबेई में 33, जियांग्सू में 23, तियानजिन में 17 और बीजिंग में 20 नए मामले आए हैं। सपाट झूठ बोलने का समय नहीं : चीनी विशेषज्ञ कोविड-19 के तेजी से पुनरुत्थान के बीच शीर्ष चीनी संक्रामक रोग विशेषज्ञ झांग वेनहोंग ने सोमवार को कहा कि यह वक्त चीन के लिए सपाट झूठ बोलने का नहीं है। हमें शून्य-कोविड नीति पर बहस करने के बजाय पूर्ण और टिकाऊ महामारी रणनीतियों को तुरंत लागू करना चाहिए। वेनहोंग ने चीनी सोशल मीडिया प्लेटफार्म सिना वीबो पर एक पोस्ट में यह टिप्पणी करते हुए कहा, 2020 में कोरोना महामारी के बाद से यह चीन के लिए सबसे कठिन अवधि है। उन्होंने चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स से बात करते हुए कहा, यह वक्त तुरंत कार्रवाई करने का है अन्यथा हालात बेकाबू हो सकते हैं। हांगकांग में स्वास्थ्य प्रणाली ध्वस्त स्वायत्त क्षेत्र की नेता कैरी लाम ने सोमवार को कहा कि ताजा आंकड़ों को देखें तो शहर की स्वास्थ्य प्रणाली पूरी तरह से ध्वस्त हो रही है। लेकिन हम महामारी शुरू होने के बाद से सबसे सख्त उपाय कर रहे हैं। यहां दो लोगों के एकत्रित होने तक पर प्रतिबंध है। स्कूल और कई संस्थान तथा सार्वजनिक स्थल बंद हैं। बता दें, सोमवार को स्वास्थ्य अधिकारियों में हांगकांग में एक दिन के भीतर 249 मौतों और 26,908 मामलों की सूचना दी है। पिछले तीन हफ्तों में शहर में सात लाख से ज्यादा संक्रमित और 4,200 मौतों की सूचना है। बराक ओबामा कोरोना संक्रमित, मोदी ने की शीघ्र स्वस्थ होने की कामना पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने बताया है कि वे कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि उनकी पत्नी संक्रमित नहीं हैं। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है। ओबामा ने ट्वीट किया, पिछले करीब दो दिन से मेरे गले में खराश थी, लेकिन मैं ठीक महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा, शुक्र है कि मैंने और मिशेल ने टीकाकरण करा लिया था और बूस्टर खुराक भी ली है। अमेरिका में पिछले एक सप्ताह में करीब 35,000 लोग संक्रमित हुए हैं, जबकि मध्य जनवरी में यह संख्या करीब आठ लाख थी।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Mar 15, 2022, 00:59 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




चीन में फिर कोरोना : बीते साल से ज्यादा मामलों पर डब्ल्यूएचओ ने चेताया, ओमिक्रॉन-डेल्टा के मेल से बना नया वैरिएंट ला सकता है चौथी लहर #World #International #Beijing #Geneva #China #Coronavirus #Covid-19 #OmicronVariant #DeltaVariant #SubahSamachar