रोडवेज की बस ने दिया दगा, मुसाफिरों ने पांच घंटे तक झेली फजीहत ...

चंपावत। उत्तराखंड परिवहन निगम की बसें मुसाफिरों के लिए परेशानी का सबब बन रहीं हैं। दो जगह बसें खराब होने से टनकपुर से 150 किमी दूर पिथौरागढ़ पहुंचने के लिए कुछ यात्रियों को एक के बजाय तीन बसों से यात्रा करनी पड़ी। इससे यात्रियों को पांच घंटे तक रास्ते में फंसना पड़ा। टनकपुर स्टेशन से पिथौरागढ़ जाने वाली रोडवेज की बस में 19 यात्री थे लेकिन मुश्किल से 25 किमी दूर सूखीढांग के पास बस खराब हो गई। रोडवेज स्टाफ और यात्रियों ने निगम के उच्चाधिकारियों को बस की खामी बताकर दूसरी बस भेजने का आग्रह किया। करीब डेढ़ घंटे बाद दूसरी बस सूखीढांग पहुंची। यात्री इस बस से 26 किमी आगे बढ़ी ही थी कि टनकपुर से 51 किमी दूर अमोड़ी के पास बस ने फिर दगा दे दिया। रास्ते से गुजर रहे पूर्व जिला पंचायत सदस्य गोविंद सामंत ने बस की खराबी से यात्रियों को फंसा देख मौके से ही परिवहन मंत्री और रोडवेज के जीएम से फोन पर बात कर समस्या सुलझाने की मांग की। तीन यात्रियों को सामंत अपने साथ चंपावत तक लाए जबकि शेष 16 यात्रियों को दूसरे वाहन से भेजा गया लेकिन इस पूरी कवायद में यात्रियों को पांच घंटे तक परेशानी झेलनी पड़ी। एजीएम केएस राणा ने बताया कि बस में तकनीकी खामी की वजह से ये नौबत आई।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 07, 2022, 00:54 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




रोडवेज की बस ने दिया दगा, मुसाफिरों ने पांच घंटे तक झेली फजीहत ... #Bus #Roadways #Uttarakhand #Kumaun #Champawat #SubahSamachar