अमर उजाला अभियान शिक्षा: शिक्षकों ने विद्यार्थियों की पढ़ाई का स्तर पता कर कराई तैयारी, बढ़ा आत्मविश्वास

कोरोना काल में विद्यालय बंद रहने के दौरान यूपी बोर्ड के विद्यार्थियों को पढ़ाई में अपेक्षाकृत अधिक समस्या हुई। ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए इनके पास एंड्राइड फोन व इंटरनेट की सुविधा नहीं थी। विद्यालय खुलने के बाद शिक्षकों ने विद्यार्थियों से संवाद कर उनकी पढ़ाई का स्तर पता किया, जहां समस्या थी, उसकी तैयारी कराई गई। विद्यालय प्रशासन ने शिक्षकों से अतिरिक्त कक्षाएं लगवाईं। नतीजा यह रहा कि विद्यार्थियों ने घरेलू वार्षिक परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन किया। बोर्ड परीक्षार्थियों के भी मन में अच्छा करने का विश्वास पैदा हुआ। नोट्स उपलब्ध कराने के साथ टेस्ट भी ले रहे थे शिक्षक एमडी जैन इंटर कॉलेज के 10वीं के छात्र धनीराम ने बताया कि ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान शिक्षक नोट्स उपलब्ध कराने के साथ टेस्ट भी ले रहे थे। पढ़ाई में निरंतरता बनी रही। कुछ टॉपिक कम समझ में आए तो उन्हें विद्यालय खुलने पर शिक्षकों से समझ लिया गया। पाठ्यक्रम पूरा होने से परीक्षा के प्रति विश्वास बढ़ा। शिक्षकों ने सभी समस्याओं का समाधान कराया 10वीं के छात्र विजय चौहान ने कहा कि कोरोना में विद्यालय बंद होने पर शिक्षकों ने व्हाट्सएप ग्रुप में नोट्स उपलब्ध कराए। इससे पढ़ाई की गई। जब विद्यालय खुल गए, शिक्षकों ने पूछकर सभी समस्याओं का समाधान कराया, इससे बोर्ड परीक्षा की तैयारी अच्छी हो सकी।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Mar 27, 2022, 23:49 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




अमर उजाला अभियान शिक्षा: शिक्षकों ने विद्यार्थियों की पढ़ाई का स्तर पता कर कराई तैयारी, बढ़ा आत्मविश्वास #CityStates #Agra #UttarPradesh #Students #UpBoard #AmarUjalaAbhiyanEducation #AmarUjalaCampaign #SubahSamachar