लंबी दूरी के मुसाफिरों को राहत: मेल और एक्सप्रेस ट्रेन के अनारक्षित कोच में सफर के लिए करनी होगी बुकिंग

कोरोना संक्रमण कम होता देख रेलवे ने ट्रेनों का फिर से सामान्य परिचालन बहाल करने का निर्णय ले लिया है। हालांकि इसका फायदा दैनिक यात्रियों को फिलहाल मिलता नहीं दिख रहा। लोकल यानी अनारक्षित ट्रेनों की संख्या अभी नहीं बढ़ाई गई है। महामारी के दौर में अभी जो अनारक्षित ट्रेनें चल रही हैं, वही चलती रहेंगी। लिहाजा दैनिक यात्रियों को कम ट्रेनों से ही काम चलाना पड़ेगा। साथ ही मेल व एक्सप्रेस ट्रेन के अनारक्षित कोच में सफर करने के लिए सीट की बुकिंग करनी होगी और एक्सप्रेस ट्रेन का शुल्क देना होगा। उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी के अनुसार कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुए अनारक्षित ट्रेनों पर कोई फैसला नहीं हुआ है। रेल मंत्रालय के सर्कुलर में स्पेशल ट्रेनों में बदलाव कर सामान्य श्रेणी में किया गया है। सेंटर फॉर रेलवे इंफोर्मेशन सिस्टम (क्रिस) सॉफ्टवेयर अपडेट करने में जुटा है। फिलहाल नहीं मिलेंगी यात्रियों को कई सुविधाएं स्पेशल ट्रेन का किराया आगामी कुछ दिनों में जरूर कम हो जाएगा। लेकिन पहले की तरह ट्रेनों में वरिष्ठ नागरिकों को मिलने वाली यात्रा किराए में छूट नहीं मिलेगी। इसी तरह अन्य तरह के विशेष श्रेणी वाली छूट को भी बहाल नहीं किया जाएगा। इतना ही नहीं पेंट्री कार की सुविधा भी बहाल नहीं की गई है। लिहाजा ट्रेन में पकाया गया खाना यात्रियों को नहीं मिलेगा। ट्रेनों के नियमित परिचालन के बावजूद राजधानी, शताब्दी सरीखी प्रीमियम ट्रेनों में भी पेंट्री की सुविधा नहीं होगी और कोरोना काल वाली स्थिति बहाल रहेगी। ताजा खाना की जगह रेडी टू इट मिल लोगों को मिलेगा। सफर करने वालों को ऑनलाइन खाना बुक करना होगा। डिस्पोजेबल चादर व कंबल के लिए 300 रुपये अतिरिक्त खर्च करना पड़ेगा। दैनिक यात्रियों की समस्या बरकरार दैनिक यात्री संघ का कहना है कि कोविड संक्रमण का प्रकोप कम हो रहा है। रेलवे को दैनिक यात्रियों की परेशानी को देखते हुए पैसेंजर ट्रेनों को भी पटरी पर उतारना चाहिए। मेल व एक्सप्रेस ट्रेन में 10 किलोमीटर के यात्रा के लिए 30 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं। इतना ही नहीं सीजन एंड मंथली पास (एमएसटी) का उपयोग कर दैनिक यात्री सफर नहीं कर पा रहे हैं। महामारी के दौर में गिनती की जो अनारक्षित ट्रेनें चल रही हैं, वहीं चलेंगी। 200 किलोमीटर से अधिक दूरी तय करने वाली पैसेंजर ट्रेनें भी एक्सप्रेस के तौर पर ही चलेंगी। इनमें रिजर्वेशन कराना होगा।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Nov 14, 2021, 06:48 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




लंबी दूरी के मुसाफिरों को राहत: मेल और एक्सप्रेस ट्रेन के अनारक्षित कोच में सफर के लिए करनी होगी बुकिंग #IndiaNews #National #IndianRailways #UnreservedCoaches #Passengers #SubahSamachar