बढ़ी परेशानी :  सेमीकंडक्टर के संकट से कारों की बिक्री पर लगा ग्रहण

अगर आप कार खरीदने का मन बना रहे हैं तो अभी फिलहाल अपने विचार को त्याग दीजिए, क्योंकि भारत-चीन तनाव के बाद उत्पन्न हुई सेमीकंडक्टर की समस्या से कारों का उत्पादन घट गया है। आलम यह है कि कार निर्माता कंपनियां मांग के अनुरूप कार उपलब्ध नहीं करा पा रही हैं, जिससे डीलरों ने बुकिंग लेना ही बंद कर दिया है। प्रयागराज में ग्राहकों को गाड़ियों की आपूर्ति करने में डीलरों को छह माह तक का समय लग रहा है। कार के बाजार को इससे काफी नुकसान पहुंचा है। भारत-चीन के व्यापारिक संबंधों के बिगड़ने से सबसे ज्यादा प्रभाव कारों की बिक्री पर पड़ा है। सेमीकंडक्टर की अनुपलब्धता के कारण पिछले दो वर्षों से कारों की बिक्री 30 से 40 फीसदी तक प्रभावित हुई है। शो रूम में इक्का दुक्का डेमो कारों केअलावा स्टॉक नहीं बचा है। हालात ऐसे बन गए हैं कि पांच से छह माह पुरानी बुकिंग को भी पूरा करने में कार डीलरों केपसीने छूट रहे हैं। इसकेअलावा कई कार डीलरों ने तो बुकिंग तक लेनी बंद कर दी है। दरअसल कारों में इस्तेमाल होने वाले सेमीकंडक्टर भारत पहले चीन से खरीदता था। गलवां हमले के बाद भारत ने चीन से सेमीकंडक्टर का आयात करना बंद कर दिया, जिससे सेमीकंडक्टर की समस्या उत्पन्न हो गयी है। हालांकि टाटा मोटर्स सहित कई अन्य कंपनियां सेमीकंडक्टर बनाने में दिलचस्पी दिखा रही हैं। लेकिन इसकेबावजूद हालात सुधरने में कम से कम एक साल का समय लग सकता है। इस समय सेमीकंडक्टर बनाने की तकनीक ताईवान, चीन और कुछ हद तक जापान केपास है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Mar 31, 2022, 01:44 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




बढ़ी परेशानी :  सेमीकंडक्टर के संकट से कारों की बिक्री पर लगा ग्रहण #CityStates #Prayagraj #Car #CarBazar #CarDekho #CarProducts #SubahSamachar