कोरोना पाबंदियों में ढील: ट्रेनों से पिछले सात दिनों में यूपी, बिहार समेत अन्य राज्यों से 33 लाख यात्रियों ने किया सफर

पिछले सात दिनों के दौरान उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और झारखंड जैसे राज्यों से 32.56 लाख यात्रियों ने ट्रेन से सफर किया। रेलवे ने शनिवार को यह जानकारी दी। इससे संकेत मिल रहे हैं कि कोरोना पाबंदियों में ढील के बाद प्रवासी कामगार फिर से अपने कार्यस्थलों की ओर लौट रहे हैं। रेलवे ने एक बयान में कहा कि इन यात्रियों ने लंबी दूरी की मेल एक्सप्रेस ट्रेनों से सफर किया जिनकी औसतन क्षमता 110.2 फीसदी थी। 11-17 जून के बीच इन यात्रियों ने दिल्ली, मुंबई, पुणे, सूरत, अहमदाबाद और चेन्नई जैसे शहरों के लिए सफर किया। ये शहर रोजगार देने के लिए अग्रणी माने जाते हैं। रेलवे धीरे-धीरे अनलॉक हो रहे शहरों में कामगारों को लाने में मदद कर रहा है। बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे शहरों से मुंबई, दिल्ली, हैदराबाद, बंगलूरू और चेन्नई के लिए रेलवे मेल, एक्सप्रेस स्पेशल, हॉलीडे स्पेशल और समर स्पेशल ट्रेनें चला रहा है। 18 जून को 983 मेल-एक्सप्रेस और हॉलीडे स्पेशल ट्रेनों का संचालन किया गया। यह आंकड़ा कोरोना काल से पहले के स्तर का 56 फीसदी है। इसके अलावा 1309 समर स्पेशल ट्रेनें भी चलाई गईं। ये समर ट्रेनें बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और असम को दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई, पुणे, बंगलूरू और अन्य शहरों से जोड़ती हैं। अगले 10 दिनों 19 से 28 जून के दौरान करीब 29.15 लाख यात्रियों के सफर करने की उम्मीद है। इन यात्रियों में प्रवासी कामगार भी शामिल हैं। पिछले साल कोरोना महामारी के प्रसार के दौरान एक मई से 30 अगस्त के बीच रेलवे ने 63.15 लाख प्रवासी कामगारों को एक जगह से उनके गंतव्य तक पहुंचाया था। इस दौरान रेलवे ने 23 राज्यों के बीच 4000 से अधिक श्रमिक ट्रेनें चलाई थीं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 20, 2021, 02:45 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




कोरोना पाबंदियों में ढील: ट्रेनों से पिछले सात दिनों में यूपी, बिहार समेत अन्य राज्यों से 33 लाख यात्रियों ने किया सफर #IndiaNews #National #IndianRailways #Coronavirus #SubahSamachar