तनाव : फ्रांस में उइगर नरसंहार पर पारित प्रस्ताव के बाद चीन बौखलाया, कहा- यह अंदरूनी मामलों में दखल

फ्रांस की संसद में चीन के शिनजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों के साथ मानवाधिकार के मुद्दों पर चिंता जताते हुए उसे समुदाय विशेष का नरसंहार करार दिया। इस प्रस्ताव को विपक्षी सोशलिस्ट पार्टी ने पेश किया जिसे राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की पार्टी ने भी समर्थन दिया। इस प्रस्ताव के पारित होने के बाद चीन बौखला गया है। उसने कहा है कि यह प्रस्ताव द्विपक्षीय रिश्तों को नुकसान पहुंचा सकता है। फ्रांस में चीनी दूतावास ने कहा, शिनजियांग से संबंधित मुद्दे जातीय, धार्मिक या मानवाधिकार के नहीं हैं, बल्कि ये आतंकवाद और अलगाववाद से जुड़े मामले हैं। ये मुद्दे चीन की संप्रभुता से जुड़े हैं जो क्षेत्रीय अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित हैं। इस बीच चीन के सरकार अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी फ्रांसीसी संसद में पारित प्रस्ताव को लेकर कहा कि चीन के आंतरिक मामलों में दखल देते हुए उसे बदनाम किया जा रहा है। फ्रांस में चीनी दूतावास ने फ्रांसीसी संसद में पारित चीनी मुस्लिमों के नरसंहार संबंधी निंदा प्रस्ताव पर कहा कि फ्रांस अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर चीनी नीतियों को बदलने के लिए दबाव बना रहा है, जो झूठ पर आधारित है। इससे पहले फ्रांसीसी संसद में चीन के खिलाफ रखा प्रस्ताव 169 मतों के साथ पारित हो गया। इस प्रस्ताव के विरोध में सिर्फ एक मत पड़ा।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jan 22, 2022, 02:23 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




तनाव : फ्रांस में उइगर नरसंहार पर पारित प्रस्ताव के बाद चीन बौखलाया, कहा- यह अंदरूनी मामलों में दखल #World #International #France #China #Uyghur #SubahSamachar