कोरोना ने किया सचेत: बीमा खरीदने में छोटे शहरों के लोग आगे, महामारी में स्वास्थ्य से लेकर बीमा के प्रति बढ़ी जागरुकता

महामारी के दौरान लोगों में स्वास्थ्य से लेकर अन्य प्रकार के बीमा को लेकर जागरुकता बढ़ी है। खासकर छोटे शहरों में बीमा खरीदने की प्रवृत्ति बढ़ रही है। पॉलिसीबाजार के सर्वे में कहा गया है, बीमा खरीदने में बड़े शहरों के मुकाबले छोटे शहरों के लोग आगे हैं। टियर-2 शहरों के 89 फीसदी लोग स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी रिन्यू कराना चाहते हैं, जबकि टियर-1 शहरों में यह आंकड़ा 77 फीसदीहै। टर्म बीमा के मामले में टियर-3 शहरों के 59फीसदीलोग कवरेज बढ़ाना चाहते हैं, जबकि टियर-1 शहरों में यह हिस्सा महज 26फीसदीहै। 80 फीसदीने खरीदा फैमिली फ्लोटर प्लान 62 फीसदी लोगों ने कहा कि वे कंपनी की ओर से मिलने वाली स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पर ज्यादा निर्भर नहीं है। यही वजह है कि पहली लहर के बाद 50 फीसदी और डेल्टा लहर के बाद 41 फीसदी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदी गई। कुल बिक्री में करीब 80 फीसदी हिस्सेदारी फैमिली फ्लोटर प्लान की रही। टर्म बीमा : कम प्रीमियम में बड़ा कवरेज टर्म बीमा के तहत लोग कम प्रीमियम में बड़ा कवरेज चाहते हैं। अप्रैल, 2022 तक 60 फीसदी लोगों के पास टर्म बीमा पॉलिसी थी, जबकि 55 फीसदी लोगों की खरीदने की योजना थी। इसमें आगे कहा गया है कि पहली लहर के बाद 47 फीसदी और दूसरी लहर के बाद 40 फीसदी टर्म बीमा पॉलिसी खरीदी गई। कोरोना ने 50 फीसदी लोगों की बिगाड़ी आर्थिक सेहत कोरोना के कारण सर्वे में शामिल 50 फीसदी लोग आर्थिक रूप से प्रभावित हुए। महामारी के दो साल बाद भी इनमें से सिर्फ 25 फीसदी ही उबर पाए हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: May 12, 2022, 06:52 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




कोरोना ने किया सचेत: बीमा खरीदने में छोटे शहरों के लोग आगे, महामारी में स्वास्थ्य से लेकर बीमा के प्रति बढ़ी जागरुकता #Bazar #National #InsurancePolicy #HealthInsurancePolicy #CoronavirusPandemic #Awareness #SubahSamachar