अब पैनोरमिक कोच में बैठकर यात्री ले सकेंगे प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद

पंचकूला। नैरो गेज पैनोरमिक कोच में अगले साल से कालका-शिमला वर्ल्ड हेरिटेज ट्रैक पर सफर रोमांचित होने वाला है। पर्यटक प्राकृतिक नजारों का बहुत करीब से ट्रेन में बैठे-बैठे सफर का लुत्फ उठा सकेंगे। इसके अलावा बाहरी दृश्यों को अपने कैमरे में कैद कर सकेंगे। इसके लिए बाकायदा शीशे युक्त पारदर्शी डिब्बों के ऊपरी हिस्से में खिड़की की सुविधा दी गई है। इस तरह के 30 डिब्बे कपूरथला के रेल कोच फैक्ट्री (आरसीएफ) में तैयार किए जा रहे हैं। जिनके, दो डिब्बों का ट्रायल कालका-शिमला मार्ग पर अगले सप्ताह किया जाएगा। इन डिब्बों को पांच पुराने डिब्बों के साथ जोड़कर कालका से शिमला के बीच ट्रायल होगा। इस दौरान रेलवे इंजीनियरिंग विंग के अधिकारी पटरी पर चलने के बाद रेल डिब्बों के आवाज से लेकर तमाम सुरक्षा मानकों की जांच करेंगे। उसके बाद रिसर्च डिजाइन एंड स्टैंडर्ड ऑर्गेनाइजेशन (आरडीएसओ) लखनऊ की टीम डिब्बों की जांच करेगी। इसमें स्पीड के मानकों पर पड़ताल होगी कि इन्हें 30 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाया जाए या नैरो गेज ट्रैक पर दौड़ाया जा सकता है या नहीं। बता दें कि कालका-शिमला रेल मार्ग पर 30 नए डिब्बों से पुराने डिब्बों को बदला जाएगा। टॉय ट्रेनों के लिए तैयार किए जा रहे एलएचबी कोच 765 मिमी नैरो गेज पर चलने में सक्षम होंगे। ये सुविधाएं होंगी - बाहर का नजारा अपने कैमरे में कैद करने के लिए एक विंडो की सुविधा दी गई है - हर सीट के साथ मोबाइल चार्जिंग की व्यवस्था की गई है।- नॉन एसी कोचों में पंखे भी लगाए गए है। - कोच में एयर कंडीशनर की भी सुविधा है। - एलईडी टच लाइटें लगाई गई हैं। - आधुनिक बॉयो शौचालय की सुविधा होगी। - नई सीट्स और कई तरह के बदलाव किए गए हैं।- गार्ड व चालक को जानकारी देने के लिए प्रत्येक कोच में दो अलार्म पुश बटन लगाए जा रहे हैं। - यात्री घोषणा प्रणाली के लिए स्पीकर सिस्टम की सुविधा मिलेगी। - स्टेशनों की जानकारी देने के लिए डिस्पले बोर्ड और वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध होगी।इन ट्रेनों के बदलेंगे डिब्बेवर्ल्ड हेरिटेज कालका-शिमला रेल सेक्शन पर मौजूदा समय में पांच जोड़ी ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। इसमें ट्रेन नंबर 72451, रेल मोटर कार, 52451 शिवालिक डीलक्स एक्सप्रेस, 52455 हिमालयन क्वीन, 52453 कालका-शिमला स्पेशल एक्सप्रेस और ट्रेन नंबर 52457 कालका-शिमला स्पेशल एक्सप्रेस शामिल हैं। इन ट्रेनों के डिब्बे बदले जाएंगे। कालका-शिमला रेलमार्ग के पुराने कोच बदले जाएंगे। इसके लिए कपूरथला रेल कोच फैक्टरी में 30 नए आधुनिक रेल के डिब्बे तैयार किए जा रहे हैं। इसका ट्रायल कालका में जल्द होगा। - जितेश कुमार, सीपीआरओ, कपूरथला रेल कोच फैक्टरी ।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Sep 23, 2022, 01:42 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Panchkula Train Track Coach



अब पैनोरमिक कोच में बैठकर यात्री ले सकेंगे प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद #Panchkula #Train #Track #Coach #SubahSamachar