प्रापर्टी डीलर के हत्यारोपी को आजीवन कारावास

प्रापर्टी डीलर के हत्यारोपी को आजीवन कारावास गाजियाबाद। नौ साल पहले उधार दिए गए 10 लाख रुपये का तकादा करने पर प्रापर्टी डीलर की हत्या करने वाले को अदालत ने दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। मुकदमे की सुनवाई के दौरान एक अभियुक्त की मौत हो चुकी है, जबकि तीसरे आरोपी के नाबालिग होने के चलते उसकी फाइल अलग कर दी गई है। जिला न्यायाधीश ने दोषी पर 50 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है। उसमें से 30 हजार रुपये मृतक की पत्नी को दिए जाने का आदेश दिया है। जिला शासकीय अधिवक्ता राजेश चंद्र शर्मा ने बताया कि 14 नवंबर 2013 को मोदीनगर के शास्त्रीनगर निवासी पारस राम ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उनका बेटा नीरज प्रापर्टी डीलिंग का काम करता था। 12 नवंबर को उसके दोस्त नरेश और सोनू उसे मथुरा ले गए थे लेकिन वह वापस नहीं आया। आरोप लगाया था कि दोनों ने नीरज से चार लाख नकदी और प्लाट के छह लाख रुपये लिए थे। रिपोर्ट दर्ज करने के बाद पुलिस ने नरेश को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में नरेश ने पुलिस को बताया था कि उसने नीरज से ली गई रकम समझौते की अवधि पर वापस नहीं कर पाया था। इसके बाद नीरज ने कई बार तकादा किया जिससे नरेश दबाव में आ गया था। आरोपियों ने प्लानिंग कर मथुरा के जट्टारी में जमीन बेचकर पैसा वापस करने का आश्वासन दिया। 12 नवंबर को साथ ले जाने से पहले 10 हजार रुपये भी नीरज को वापस किया था। जट्टारी से वापस लौटते समय दोनों नीरज का अपहरण कर लिया और मथुरा के ही महावन ले गए। वहां पर सरिए से सिर पर हमलाकर नीरज की हत्या कर दी। शव वहीं जंगल में फेंक दिया। अदालत में विचारण के दौरान ही नरेश ने हत्या करने का जुर्म कबूल कर लिया था। उसने अदालत को बताया था कि अपने मित्र सोनू और उसके चाचा के नाबालिग लड़के के साथ मिलकर हत्या को अंजाम दिया था। मुकदमे के ट्रायल के दौरान सोनू की मृत्यु हो गई थी।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: May 17, 2022, 00:45 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Ghaziabad



प्रापर्टी डीलर के हत्यारोपी को आजीवन कारावास #Ghaziabad #SubahSamachar