दिल्ली : केबल की मरम्मत करने सीवर में उतरे 4 लोग बेसुध, बचाने के लिए देर तक चला अभियान

समयपुर बादली इलाके में मंगलवार शाम एमटीएनएल केबल की मरम्मत के लिए गहरे सीवर में उतरे तीन कर्मचारियों समेत चार लोग जहरीली गैस से दम घुटने से बेसुध हो गए। पुलिस के मुताबिक चारों के जीवित बचने की उम्मीद नहीं है। शाम 6:30 बजे एमटीएनएल के तीन कर्मचारी सीवर में उतरे थे। उनके बेसुध होने पर एक रिक्शा चालक उन्हें निकालने के लिए सीवर में उतरा लेकिन वह भी नहीं निकल पाया। देर रात दो बजे तक राहत और बचाव कर्मी उन्हें सीवर से निकालने में जुटे थे। पुलिस के मुताबिक चारों के शरीर में कोई गतिविधि नहीं दिख रही है। सीवर काफी गहरा है और संकरा होने के कारण बचाव कार्य देर रात तक चल रहा था। जीसीबी मशीन की मदद से पहले मैनहोल को चौड़ा कर नीचे उतरने की कोशिश की गई। लेकिन बीच में लिंटर आ जाने से काम रोकना पड़ा। बाद में उन्हें निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। जिला पुलिस उपायुक्त बृजेंद्र कुमार यादव ने बताया कि शाम करीब 6.30 बजे संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर से सूचना मिली कि चार लोग सीवर में फंस गए हैं। यहां ईडब्ल्यू-265 में एक मैनहोल में टेलीफोन लाइन की मरम्मत के लिए तीन कर्मचारी उतरे थे। इसके बाद जब वह नीचे फंसे तो एक रिक्शा चालक उनको देखने नीचे चला गया। चारों अंदर ही फंस गए हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस व दमकल विभाग की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। मैनहोल करीब दस फीट गहरा है। दमकल कर्मियों ने ऑक्सीजन मास्क लगाकर नीचे उतरने का प्रयास किया, लेकिन मैनहोल काफी संकरा है। इसकी वजह से उनके खुद के अंदर फंस जाने का खतरा था। काफी प्रयास के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने फैसला किया कि मैनहोल को तोड़कर सभी को निकाला जाए। स्थानीय प्रशासन की मदद से तुरंत एक जेसीबी को मौके पर बुलाया गया। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि सीवर में फंसे लोगों की पहचान बच्चू सिंह, सूरज कुमार साहनी, पिंटू और रिक्शा चालक सतीश के रूप में हुई है। मैनहोल छोटा होने से बचाव कार्य में देरी घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने बचाव कार्य शुरू कर दिया। आशंका है कि नीचे उतरे कर्मचारी जहरीली गैस की वजह से बेहोश हुए है। सीवर में जहरीली गैस होने की आशंका को देखते हुए दमकलकर्मी ऑक्सीजन सिलिंडर और मास्क लगाकर नीचे उतरने का फैसला किया। लेकिन मेनहोल छोटा होने की वजह से दमकल कर्मी सिलिंडर लगाकर नीचे नहीं उतर पा रहे थे। जिसकी वजह से राहत कार्य में देरी हो रही थी। उपर से सीवर में तीन लोग बेहोशी की हालत में दिख रहे थे। उनको निकालने के लिए मेनहोल को बड़ा करने का फैसला लिया गया। उसके बाद जेसीबी से मेनहोल को चौड़ा करने का काम शुरू किया गया। मेनहोल चौड़ा होने के बाद सभी चारों लोगों को एक एक कर बाहर निकाल लिया गया।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Mar 29, 2022, 22:20 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




दिल्ली : केबल की मरम्मत करने सीवर में उतरे 4 लोग बेसुध, बचाने के लिए देर तक चला अभियान #CityStates #Delhi #DelhiNews #MenTrappedInSewerline #DelhiFireService #SubahSamachar