नेकी छोड़ जुर्म को चुना: चांदपुर बना जामताड़ा, इनके ऐशो आराम देख धंधे में कूदे 80 युवा, पढ़ें शातिरों के खुलासे

साइबर क्राइम के लिए बदनाम जमताड़ा के बाद सहारनपुर के एक गांव के युवा भी इस अपराध के जाल में लोगों को फंसाने के लिए कूद गए हैं। इसका खुलासा दो शातिर युवकों की गिरफ्तारी के बाद हुई पूछताछ में हुआ। दोनों युवकों ने बताया कि उनके गांव में करीब 80 युवा इस धंधे में संलिप्त हैं। इन युवाओं के पास दुनिया का हर ऐशोआराम उपलब्ध है। एटीएम बदलकर धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने उत्तरप्रदेश के सहारनपुर के चांदपुर गांव के युवक प्रवेश और टीनू को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में दोनों ने पुलिस को बताया कि वह काफी दिनों से एटीएम में आने वाले ग्राहकों के कोड बेहद चतुराई से देख लेते हैं। इसके बाद किसी न किसी बहाने उनसे बात करते हुए उनका एटीएम कार्ड अपने पास पहले से मौजूद एटीएम कार्ड से बदल देते हैं। इसके बाद आसानी से किसी भी एटीएम से पैसा निकाल लेते हैं। शुरुआत में यह मामला मामूली ठगी का लगता है, लेकिन जब आगे पूछताछ की गई तो पता चला कि उनके गांव के करीब 80 युवक इस गंदे धंधे में लिप्त हैं। इन युवकों के ऐशोआराम को देखकर आसपास के युवा भी इनके नक्शेकदम पर चलने को बेताब हैं। युवाओं को लगता है कि पैसा कमाने का ये सबसे आसान तरीका है। दोनों ने बताया कि अब तक सौ से ज्यादा एटीएम बदलकर लाखों रुपये का चूना लोगों को लगा चुके हैं। सीओ विकासनगर नीरज सेमवाल ने बताया कि आरोपी इससे पहले रायवाला, सहसपुर से धोखाधड़ी के आरोप में जेल जा चुके हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 27, 2022, 10:58 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




नेकी छोड़ जुर्म को चुना: चांदपुर बना जामताड़ा, इनके ऐशो आराम देख धंधे में कूदे 80 युवा, पढ़ें शातिरों के खुलासे #CityStates #Dehradun #Uttarakhand #CyberCrime #Chandpur #Jamtara #SubahSamachar