Pervez Musharraf: यूएई के अस्पताल में भर्ती परवेज मुशर्रफ की हालत गंभीर, एयर एंबुलेंस से पाकिस्तान वापस लाने की तैयारी 

एक मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान के पूर्व सैन्य तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ, जो गंभीर स्थिति में यूएई के एक अस्पताल में हैं, उनके ठीक होने की कोई संभावना नहीं है। उन्हें एयर एम्बुलेंस में देश वापस लाया जा सकता है, क्योंकि सेना अपने पूर्व प्रमुख के साथ खड़ी है। 1999 से 2008 तक पाकिस्तान पर शासन करने वाले 78 वर्षीय जनरल मुशर्रफ पर उच्च राजद्रोह का आरोप लगाया गया था और 2019 में संविधान को निलंबित करने के लिए मौत की सजा दी गई थी। बाद में उनकी मौत की सजा को निलंबित कर दिया गया था। सेना ने कहा, जनरल मुशर्रफ की वापसी को तैयार दुनिया टीवी ने बताया कि शक्तिशाली सेना ने पूर्व राष्ट्रपति के परिवार को पेशकश की है कि अगर वह चाहें तो जनरल मुशर्रफ की वापसी की सुविधा प्रदान कर सकते है। बयान में कहा गया, सेना ने जनरल मुशर्रफ के परिवार से संपर्क किया और उनके इलाज और उन्हें घर वापस लाने में मदद की पेशकश की। रिपोर्ट में कहा गया है कि उन्हें एयर एम्बुलेंस में देश वापस लाया जा सकता है। एक ट्वीट में टीवी एंकर कामरान शाहिद ने कहा कि जनरल मुशर्रफ को वापस पाकिस्तान लाने की सभी व्यवस्थाएं परिवार की सहमति और डॉक्टरों की सलाह के बाद की जा रही हैं। इसमें एयर एम्बुलेंस भी शामिल है। सेना अपने पूर्व प्रमुख के साथ खड़ी है। उनके परिवार ने पुष्टि की है कि पूर्व जनरल अस्पताल में हैं और उनकी रिकवरी संभव नहीं है। जनरल मुशर्रफ अपनी बीमारी (एमाइलॉयडोसिस) की जटिलता के कारण पिछले तीन सप्ताह से अस्पताल में भर्ती हैं। उनके परिवार ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि वह एक कठिन दौर से गुजर रहे हैं जहां वापसी संभव नहीं है और उनके अंग खराब हो रहे हैं। उनके दैनिक जीवन में आसानी के लिए प्रार्थना करें। दुर्लभ बीमारी से जूझ रहे हैं मुशर्रफ एमाइलॉयडोसिस एक दुर्लभ बीमारी है जो तब होती है जब एक असामान्य प्रोटीन अंगों में बनता है और अंगों के सामान्य कार्य में हस्तक्षेप करता है। उन्हें संयुक्त अरब अमीरात में 2018 में जानलेवा बीमारी एमाइलॉयडोसिस का पता चला था। जनरल मुशर्रफ मार्च 2016 में इलाज के लिए दुबई गए थे और उसके बाद से वापस नहीं लौटे हैं। उन्हें पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या और लाल मस्जिद के मौलवी हत्या मामले में भगोड़ा घोषित किया गया था। 2020 में लाहौर उच्च न्यायालय ने मुशर्रफ के खिलाफ नवाज शरीफ सरकार द्वारा की गई सभी कार्रवाइयों को असंवैधानिक घोषित कर दिया था, जिसमें उच्च राजद्रोह के आरोप पर शिकायत दर्ज करना और एक विशेष अदालत के गठन के साथ-साथ इसकी कार्यवाही भी शामिल थी। निचली अदालत ने उन्हें मौत की सजा सुनाई थी। 2019 में एक विशेष अदालत ने उन्हें मौत की सजा सुनाई थी। शनिवार को रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कहा कि जनरल मुशर्रफ की तबीयत खराब होने को देखते हुए उनकी घर वापसी में कोई बाधा नहीं आनी चाहिए। पिछली घटनाओं को इस संबंध में हस्तक्षेप करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। अल्लाह उन्हें स्वास्थ्य दे और वे जीवन के इस हिस्से में गरिमा के साथ अपना समय बिता सकें।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 14, 2022, 17:47 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




Pervez Musharraf: यूएई के अस्पताल में भर्ती परवेज मुशर्रफ की हालत गंभीर, एयर एंबुलेंस से पाकिस्तान वापस लाने की तैयारी  #World #International #ParvezMusharraf #Pakistan #PakArmy #MusharrafInUae #PakArmyAirAmbulance #DuniyaTv #SubahSamachar