Port Project: कंबोडिया बोला- चीनी मदद से बन रहा बंदरगाह चीन के उपयोग के लिए नहीं

कंबोडिया ने चीन के सहयोग से शुरू हो रही बंदरगाह विस्तार परियोजना को लेकर एक बार फिर सफाई दी है। उसने कहा कि इस बंदरगाह पर चीनी सेना की मौजूदगी नहीं होगी। बता दें कि इस बंदरगाह को लेकर अमेरिका चिंतित है और उसे आशंका है कि चीन इसका इस्तेमाल नौसैन्य अड्डे के रूप में कर सकता है। कंबोडियाई सरकार के मुख्य प्रवक्ता फे सिफान ने कहा कि रीम नौसेना ठिकाने का विस्तार चीन और कंबोडिया के सहयोग का प्रतीक है। उन्होंने कहा कि कंबोडिया में चीन के राजदूत यहां के रक्षामंत्री और अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह की अध्यक्षता करेंगे। उन्होंने वाशिंगटन पोस्ट में चीनी अफसर के हवाले से छपी खबर का खंडन किया जिसमें इस ठिकाने का इस्तेमाल चीनी सेना द्वारा करने की बात कही गई थी। राष्ट्रीय सुरक्षा में मदद करने वालों को इनाम देगा चीन चीन ने देश की सुरक्षा को खतरे में डालने वाली गतिविधियों की जानकारी देने वाले नागरिकों को पुरस्कृत करने का फैसला किया है। राज्य सुरक्षा मंत्रालय के मुताबिक, जो कोई भी राज्य को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरे की जानकारी देते है वह इनाम का पात्र होगा। हाल ही में फुजियान प्रांत में पुतिन शहर के आधिकारिक वीबो अकाउंट पर पुतिन यूनिवर्सिटी का एक छात्र इंटरनेट पर सर्फिंग कर रहा था। उसे पता चला कि कोई देश की सुरक्षा को खतरे में डालने वाली गतिविधियां कर रहा है। जिसकी शिकायत उसने संबंधित अधिकारियों को दी। पुतिन सिटी नेशनल सिक्योरिटी ब्यूरो ने इस घटना को तुरंत रोका और आरोपी को उसी के अनुसार दंडित किया।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 09, 2022, 00:51 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




Port Project: कंबोडिया बोला- चीनी मदद से बन रहा बंदरगाह चीन के उपयोग के लिए नहीं #World #International #China #WorldNews #SubahSamachar